दमा नियंत्रण संभव है…………..

दमा और टी.बी. के इलाज के लिए अभी तक स्वदेशी चिकित्सकों की ओर से कोई दावे या पेश नहीं किये गए और या फिर उन पर ध्यान नहीं दिया गया. Continue Reading →

पानी एक बेहतरीन औषधि………….

सैंकड़ो बीमारियों का एक इलाज -प्रातः जल सेवन आज के इस दौर में, जहाँ हमारे देशवासी छोटी-सी-छोटी तकलीफ के लिए बड़ी ही हाईपावर की दवा-गोलियों का इस्तेमाल कर अपने शरीर Continue Reading →

अनसुलझा आघात या सदमा (Psychosomatic) – कैंसर का अहम कारक……….

जर्मनी के शल्य-चिकित्क और कैंसर विशेषज्ञ डॉ. राइक गीर्ड हेमर (जन्म – 1935) पिछले दस वर्ष से कैंसर के मनोविज्ञान पहलुओं और उपचार पर शोध कर रहे हैं। इन्होंने 40,000 Continue Reading →

विपस्‍सना ध्‍यान की तीन विधियां: ओशो

विपस्‍सना का अर्थ है: अपनी श्‍वास का निरीक्षण करना, श्‍वास को देखना। यह योग या प्राणायाम नहीं है। श्‍वास को लयबद्ध नहीं बनाना है; उसे धीमी या तेज नहीं करना Continue Reading →

सिर के समस्त रोगों की उत्तम चिकित्सा – गाय के घी का नास्य

प्रतिदिन नाक में २ -२ बूँद गाय के घी या तिल या सरसों के तेल की डालना हमें बहुत सारे लाभ देता है .तेल या घी को लेट कर नाक Continue Reading →

जौ (barley) के प्रयोग …..

यह एकमात्र बुद्धि वर्धक अनाज है . इसका सेवन बिना झिझके किसी भी रोग के लिए निरापद रूप से किया जा सकता है . यह बहुत कम परिश्रम से ही Continue Reading →

भारत में भी लोकप्रिय हो रही है : ‘फूलों से चिकित्सा’

भारत में भी लोकप्रिय हो रही है : ‘फूलों से चिकित्सा’ क्या? आप जिन्दगी में परेशान हैं, तो फिर आपको सूरजमुखी के फूलों का लुत्फ उठाना होगा। यदि आप मरुस्थल Continue Reading →