क्या हम इच्छाओं को छोड़ दें, तो शांति मिलेगी ? ? ?

❤ पहले कदम पे सजगता ❤ लाओत्से कहता है, मैं रुकने के लिए नहीं कहता। मैं तो दौड़ने की व्यर्थता को देखने के लिए कहता हूं। उसके परिणाम में रुकना हो Continue Reading →

व्यक्ति के शरीर में इस जगत का पूरा इतिहास छिपा है। …………….

अगर हम अपने शरीर में पीछे लौंटें तो प्रत्येक व्यक्ति के शरीर में इस जगत का पूरा इतिहास छिपा है। यह जगत पहले दिन बना होगा, उस दिन भी आपके Continue Reading →

नाभि केंद्र जो बहत्तर हजार नाड़ियों का केंद्र है। उसे ठीक करने के लिए उत्तान पादासन सर्वश्रेष्ठ है।

आधुनिकता की अंधी दौड़ में खान-पान, रहन-सहन, आचार-विचार और जीवन पद्धति के विकृत हो जाने से आज सारा समाज अनेक प्रकार के रोगों से ग्रस्त हैं। खासकर वह अपच, कब्ज, Continue Reading →

अनसुलझा आघात या सदमा (Psychosomatic) – कैंसर का अहम कारक……….

  जर्मनी के शल्य-चिकित्क और कैंसर विशेषज्ञ डॉ. राइक गीर्ड हेमर (जन्म – 1935) पिछले दस वर्ष से कैंसर के मनोविज्ञान पहलुओं और उपचार पर शोध कर रहे हैं। इन्होंने Continue Reading →

Click III कैमरा नेगेटिव से फोटो बनाने का जुगाड़ ढूँढ़ा मैंने …… बी एस पाबला

पिछले दिनों बेहद ही अस्तव्यस्त अलमारी को कुछ ठीक कर लेने की असफल कोशिश में 35-40 साल पुराने क्लिक III कैमरा के नेगेटिव एक बार फिर निगाह में आये. तीखी Continue Reading →

बरगद एक उपहार है….!

*बरगद के पत्तों की 20 ग्राम राख को 100 मिलीलीटर अलसी के तेल में मिलाकर मालिश करते रहने से सिर के बाल उग आते हैं। *बरगद के साफ कोमल पत्तों Continue Reading →

फूलों से रोगों का इलाज…………..

फूलों से रोगों का इलाज पुष्प अपने आराध्य को अर्पित करके, उनके प्रति समर्पण का भाव दर्शाता है। आज इनका उपयोग प्रत्येक अवसर पर होता है। जन्मदिन से लेकर अंत्येष्टि Continue Reading →

लंबे होने के लिए अब बांस खाइये और कद बढ़ाइये……..

लंबे होने के लिए अब बांस खाइये और कद बढ़ाइये…….. बांस को लोग उसकी लम्बाई के लिए जानते हैं जो टिम्बर और सजावट के कामों में प्रयोग किया जाता है, Continue Reading →

आयुर्वेद में एंटीबायोटिक गुण वाली औषधियां

आयुर्वेद में एंटीबायोटिक गुण वाली औषधियां आयुर्वेदिक औषधियों के प्रयोग से बैक्टीरिया में resistance उत्पन्न नहीं होता है और यही इसका सबसे प्रभावी एंटीबायोटिक गुण है. आयुर्वेद विज्ञान में मनुष्य Continue Reading →

कुटज यह दस्तों में बड़ी कारगर दवाई है …………….

कुटज (वानस्पतिक नाम : Wrightia antidysenterica) एक पादप है। इसके पौधे चार फुट से १० फुट तक ऊँचे तथा छाल आधे इंच तक मोटी होती है। पत्ते चार इंच से आठ Continue Reading →