तनाव एक शारीरिक और मानसिक बेचैनी होती है, जिसकी वजह से आपको कई तरह की बीमारियां हो सकती हैं…..

कई गंभीर बीमारियों का कारण है तनाव तनाव एक शारीरिक और मानसिक बेचैनी होती है, जिसकी वजह से आपको कई तरह की बीमारियां हो सकती हैं तनाव दो प्रकार का Continue Reading →

मेडिटेशन सदियों से कई बीमारियों के इलाज का अभिन्न अंग रहा है………….

ध्यान अर्थात मेडिटेशन स्वास्थ्य प्राप्त करने की एक प्राचीन विधि है। मेडिटेशन के कमाल के लाभों के चलते इसका लाभ उठाने वाले लोगों की संख्या देश और विदेश दोनों में Continue Reading →

खाओ, पियो, मौज करो! परमात्मा इस के विपरीत नहीं है……. ओशो

मैं भी कहता हूं: नाचो, गाओ, उत्सव मनाओ; लेकिन नाचना, गाना, और उत्सव मनाना गंतव्य नहीं है, लक्ष्ण नहीं है, साधन है। साध्य परमात्मा है। ऐसे नाचो कि नाचनेवाला मिट Continue Reading →

कोई भी बात बिना व्याख्या के सत्य है, और व्याख्या के साथ वह भ्रामक हो जाती है…….

लाओत्सु के विषय में एक छोटी सी कथा है। वह रोज सुबह सैर के लिए जाया करता था। जब लाओत्सु जाता था, तो एक पड़ोसी भी उसके पीछे —पीछे हो Continue Reading →

गंभीरता तो एक प्रकार का रोग है, सर्वाधिक घातक रोगों में से एक रोग है – Seriousness is Sickness –

ऐसा हुआ कि तीन आदमी सत्य की तलाश में थे, इसलिए वे दूर —दूर देशों की यात्रा कर रहे थे। उन तीनों में एक यहूदी था, दूसरा ईसाई था, और Continue Reading →

केवल वर्तमान के क्षण में ही जीवन संभव है……. ओशो

क्षण—प्रतिक्षण वर्तमान में जीने की आदत कैसे बनायी जाए?’ इसका. आदत से कोई लेना—देना नहीं है, इसका संबंध तुम्हारी जागरूकता से, तुम्हारे होश से, तुम्हारे बोध से है। इसके अतिरिक्त Continue Reading →

काली जीरी – सभी तरह के कीड़ो की दुश्मन …………..

काली जीरी को देश के विभिन्न भागों में भिन्न -भिन्न नामों से पुकारा जाता है। ये नाम हैं- सोमराजी, वनजीरक, अरण्यजीरक, मलौबक्शी, काकशम, बृहत्पाली, तिक्तजीरक, रणचजिरी, कलुजौरी, हकुच , बकौकी  आदि। Continue Reading →

रोज सुबह पानी में हल्‍दी मिलाकर पीने के हैं ये फायदे ………….

हल्‍दी वाला पानी स्‍वास्‍थ्‍यवर्धक गुणों से भरपूर होता है। इसके सेवन से शरीर के विषैले तत्‍व बाहर निकलते है। हल्‍दी में करक्‍यूमिन नामक केमिकल की मौजूद होता है। यह शरीर Continue Reading →

जैविक घड़ी पर आधारित दिनचर्या ………… Biological Watch of a Human Body ………..

◆◆ निरोगी जीवन के लिए अपनाये जैविक घड़ी पर आधारित दिनचर्या ◆◆ ________________________________________ हमारे ऋषियों, आयुर्वेदाचार्य ने जो जल्दी सोने-जागने एवं आहार-विहार की बातें बतायी है,उन पर अध्ययन व खोज Continue Reading →