“तनाव मुक्ति का एक मात्र विकल्प, फिर से बच्चों जैसे हो जाये” Be Again as A Child for Stress Free Life…..

ओशो हेल्थ टैम्पल पर महिलाओ के लिए लगाये गए शिविर में”तनाव मुक्ति का एक मात्र विकल्प, फिर से बच्चों जैसे हो जाये”का अनुशरण करती महिलाये।प्रशिक्षण देती पयस्विनी शर्मा। कभी इस Continue Reading →

योगासन और ध्यान में अंतर Difference between Yoga and Meditation …….

मैं तुमसे कहता हूं, लाख तुम योगासन करो, सम्यक दृष्टी नहीं पाओगे। हां, कुछ और पाओगे। स्वास्थ्य पाओगे। कम बीमार होओगे। ज्यादा लंबे जीओगे। मगर ज्यादा लंबे जीकर भी क्या Continue Reading →

सजगता awareness [ सजगता और सतर्कता ही “आनंद” है। ]

अपने शरीर को लेकर पूरी तरह सचेत होना। . . . जब तुम चलते हो तब तुम्हें पता होना चाहिए कौन-सा पैर आगे गया और कौन-सा पैर पीछे गया। जब Continue Reading →

वनस्पतियों की पत्तियों से तैयार किये जाने वाले पत्तलों और उनसे होने वाले लाभ…

आजकल महंगे होटलों और रिसोर्ट मे भी इन पत्तों का प्रयोग होने लगा है…………. भारत  में आज भी गांव व छोटे शहरों में पत्तल में भोजन खाने की परंपरा है। Continue Reading →

सत्यकाम जाबाल

सत्यकाम कथा के संदर्भ में महर्षि गौतम ने जो फैसला लिया उसने प्राचीन इतिहास की दिशा को ही बदलकर रख दिया। जब महर्षि ने सत्यकाम से उनका गोत्र पूछा तो Continue Reading →

जीवन का निर्णय अपने होश से होने दो…………….

जीवन आमतौर पर एक आदत, एक यांत्रिक आदत है और कुछ नहीं। जब तक कि तुम जागरूक न हो, जब तक कि तुम वास्तविक रूप से बोधपूर्ण न हो जाओ, Continue Reading →

स्वास्थ्य से ज्यादा नौकरी को तवज्जो देने वाले सिर्फ शारीरिक बीमारियों से ही नहीं जूझते। उन्हें मानसिक बीमारी भी घेरे रहती हैं……..

क्‍या होता है जब आप स्‍वास्‍थ्‍य को नजरअंदाज कर जॉब को देते हैं प्राथमिकता   नौकरी को तवज्जो देने वाले अकसर बोझिल रहते हैं। स्वास्थ्य को दरकिनार करने वाले मोटापे Continue Reading →

The Power of Silence (मौन की ताकत)

The Power of Silence (मौन की ताकत) “चुप रहना” एक ऐसी शक्ति है जो हमें किसी भी बात को गहराई से समझने की और काम करने की ऊर्जा देती है Continue Reading →

ज़िंदगी को कीजिए ‘रीसेट’ – Press the Reset Button On Your Life …….

ज़िंदगी हमें हर समय किसी-न-किसी मोड़ पर उलझाती रहती है. हम अपने तयशुदा रास्ते से भटक जाते हैं और मंजिल आँखों से ओझल हो जाती है. ऐसे में मैं हमेशा Continue Reading →