तुम्हारी सारी तकलीफ तुम्हारा सिर है , तुम्हारे विचार हैं , विचारों का ऊहापोह है ………..

*मंत्र* “जो सिर का दर्द दूर करे , वह डाक्टर ; और जो सिर को ही दूर कर दे , वह मंत्र है । न रहेगा बांस , न बजेगी Continue Reading →

पत्नियों पत्नियों में भी भेद है।

*भगवान, मेरी शादी होने वाली है। इससे मेरी सत्य की खोज कुंठित होगी, या इससे सहयोग मिलेगा? प्रभु, मुझे मार्गदर्शन दें!* सत्यानंद भारती, सब तुम पर निर्भर है। इस जगत Continue Reading →

जीवन एक विराट पाठशाला है, एकमात्र विश्वविद्यालय है …………… osho

“यह संसार क्यों है?” – ओशो बहुत बार यह प्रश्न उठा है तुम मेंः ‘यह संसार क्यों है? इतनी ज्यादा पीड़ा क्यों है? यह सब किसलिए है? इसका प्रयोजन क्या Continue Reading →

स्वास्थ्य के चार स्तंभ

OSHO Times Body Dharma स्वास्थ्य के चार स्तंभ स्वास्थ्य के चार स्तंभ स्वास्थ्य एक शारीरिक घटना ही नहीं है। यह मात्र इसका एक आयाम है, और वह भी ऊपरी आयाम,क्योंकि Continue Reading →

ध्यानी का आहार – Food for Mediator ……..

ध्यानी का आहार मनुष्य एक अकेली प्रजाति है जिसका आहार अनिश्चित है। अन्य सभी जानवरों का आहार निश्चित है। उनकी बुनियादी शारीरिक जरूरतें और उनका स्वभाव फैसला करता है के Continue Reading →

Humor – पिता ने बेटी को कहा – उसको माइकेल क्रूज़ की “OLD MEN ARE NOT STUPID” किताब देना मत भूलना …

एक लड़की अपने पिता के साथ बैठी हुई थी।उसी समय उसका Boy Friend वहां पहुँच गया।लड़की ने कहा-तुमने लौरेंज फ्लैमिंन की “DADDY IS HOME” किताब लेने आये हो क्या? Boy Continue Reading →

जीवन के स्वर को केवल वे ही सुन सकते हैं जो बड़ी गहरी फुर्सत में हैं ……..

🌹 लाओत्से कहता है, जीवन को मूल्य दो। अहोभाग्य है कि तुम जीवित हो। और कोई चीज मूल्यवान नहीं है; जीवन मूल्यवान है। जीवन को तुम किसी चीज के लिए Continue Reading →

आनंद स्वभाव है। दुख अर्जित करना पड़ता है ………

Osho Cosmic Lovers 9 hrs इस जीवन में मैंने दुख ही दुख क्यों पाया है? दुख ही दुख अगर पाया है तो बड़ी मेहनत की होगी पाने के लिए, बड़ा Continue Reading →