फकीर ने कहा कि तुम इसकी फिक्र छोड़ो कम से कम तुम लाभ ले लो।

अभी मैं एक झेन फकीर का जीवन पढ़ता था। एक युवक आया है उस फकीर के पास और उस युवक ने कहा कि मैंने सुना है, बुद्ध ने कहा है Continue Reading →

बांटने योग्य तो बात एक ही है: परमात्मा।

ऐसी उपनिषद में प्यारी कथा है। याज्ञवल्क्य छोड़ कर जा रहा है। जीवन के अंतिम दिन आ गए हैं और अब वह चाहता है कि दूर खो जाए किन्हीं पर्वतों Continue Reading →

यदि बच्चा मिट्टी खाना किसी भी प्रकार से न छोड़ रहा हो तो भांगरा के पत्तों के रस १ चम्मच सुबह शाम पिला देने से मिट्टी खाना तुरंत छोड़ देता है

भृंगराज (भांगरा) घने मुलायम काले केशों के लिए प्रसिद्ध भृंगराज के स्वयंजात शाक १८०० मीटर की ऊंचाई तक आर्द्रभूमि में जलाशयों के समीप बारह मास उगते हैं |सुश्रुत एवं चरक Continue Reading →

अनसुलझा आघात या सदमा (Psychosomatic) – कैंसर का अहम कारक

जर्मनी के शल्य-चिकित्सक और कैंसर विशेषज्ञ डॉ. राइक गीर्ड हेमर (जन्म – 1935) पिछले दस वर्ष से कैंसर के मनोविज्ञान पहलुओं और उपचार पर शोध कर रहे हैं। इन्होंने 40,000 Continue Reading →

तोरई [झींगी] पथरी और गांठ को गला देती है, गठिया और बालों के लिए भी है वरदान …….

तोरई एक प्रकार की सब्जी होती है और इसकी खेती भारत में सभी स्थानों पर की जाती है। पोषक तत्वों के अनुसार इसकी तुलना नेनुए से की जा सकती है। Continue Reading →

शरीर को मज़बूत बना देगा हल्दी और चूने का ये प्रयोग …..

कैल्शियम हड्डियों और दांतों की सरंचना में मुख्य भूमिका निभाता है। कैल्शियम की कमी से हड्डियों में अनेक रोग हो जाते हैं, मसल्स में अकड़ाव आने लगता है। जोड़ों में Continue Reading →

मौलसिरी की छाल के काढ़े से कुल्ला करने पर हिलते हुए दांत भी मज़बूत हो जाते है .

मौलसिरी मौलसिरी को बकुल भी कहते है .इस वृक्ष के पत्तें चमकीले हरे और निम्बू की सी सुगंध लिए होते है .पर सबसे सुन्दर इसके फूल होतें है जो सितारों Continue Reading →